शक्तिपीठ

sanjeev sharma Aug 19, 2022

🇱 🇮 🇻 🇪 🇩 🇦 🇷 🇸 🇭 🇦 🇳 👣 🌹👁️🔺👁️🌹 जय कुलजा माता श्री नैना देवी जी🕉️🌺🙏🌹🌻🎇🌹👣 *🙏 ll ॐ ऐं ह्रीं क्लीं चामुण्डायै विच्चे ll * *🙏 जय माता श्री नैना 👁🔺👁देवी जी 🙏*🌷🔔🎊🕉️🎈🎉🍍⛳️🙏* जय माता कुलजा देवी जी आदि शक्ति जगजननी विश्वविख्यात श्री सिद्ध शक्तिपीठ माता श्री नैना देवी जी के आज के प्रातः काल के श्रृंगार दर्शन हिमाचल प्रदेश बिलासपुर नैना देवी से *🙏👣🎉🕉️🌷🎊👁️❗️👁️🌹👣🌷1⃣9⃣ अगस्त🌹शुक्रवार 🔱🎈🌹 2⃣0⃣2⃣2⃣👣🌷 🌻💐✍️...दास संजीव शर्मा🕉️👣 💐🍓 🔔🎉🙏🌷💐🌹💐👁️🔺👁️🌹👣 जेष्ठ माता श्री नैना देवी जी सदैव अपनी कृपा बनाए रखें भक्तों पर🕉️ शुभ विक्रम संवत- 2079 शक संवत-1944 *अयन* - दक्षिणायन *ऋतु* - वर्षा *मास* - भाद्रपद *पक्ष* - कृष्ण *तिथि* - अष्टमी रात्रि 10:59 तक तत्पश्चात नवमी *नक्षत्र* - कृतिका रात्रि 01:53 तक तत्पश्चात रोहिणी *योग* - ध्रुव रात्रि 09:00 तक तत्पश्चात व्याघात 🌻💐🌷 राहुकाल - सुबह 11:07 से दोपहर 12:43 तक 🌹सूर्योदय - 06:17 🌹सूर्योस्त - 19:09 *दिशाशूल*- पश्चिम दिशा में ब्रह्म मुहूर्त - प्रातः 04:48 से प्रातः 05:33 तक निशिता मुहूर्त - रात्रि 12:21 से रात्रि 01:06 तक *व्रत पर्व विवरण - जन्माष्टमी 🏵️ *विशेष* - अष्टमी को नारियल का फल खाने से बुद्धि का नाश होता है! अष्टमी और नवमी की और जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाएं सभी माता जी के भक्तों को जय माता दी🎈⛳️👣🔱🐚🔔🚼🙏

+12 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 10 शेयर
sanjeev sharma Aug 18, 2022

🇱 🇮 🇻 🇪 🇩 🇦 🇷 🇸 🇭 🇦 🇳 👣 🌹👁️🔺👁️🌹 जय कुलजा माता श्री नैना देवी जी🕉️🌺🙏🌹🌻🎇🌹👣 *🙏 ll ॐ ऐं ह्रीं क्लीं चामुण्डायै विच्चे ll * *🙏 जय माता श्री नैना 👁🔺👁देवी जी 🙏*🌷🔔🎊🕉️🎈🎉🍍⛳️🙏* जय माता कुलजा देवी जी आदि शक्ति जगजननी विश्वविख्यात श्री सिद्ध शक्तिपीठ माता श्री नैना देवी जी के आज के प्रातः काल के श्रृंगार दर्शन हिमाचल प्रदेश बिलासपुर नैना देवी से *🙏👣🎉🕉️🌷🎊👁️❗️👁️🌹👣🌷1⃣8⃣ अगस्त🌹गुरुवार 🔱🎈🌹 2⃣0⃣2⃣2⃣👣🌷 🌻💐✍️...दास संजीव शर्मा🕉️👣 💐🍓 🔔🎉🙏🌷💐🌹💐👁️🔺👁️🌹👣 जेष्ठ माता श्री नैना देवी जी सदैव अपनी कृपा बनाए रखें भक्तों पर🕉️ शुभ विक्रम संवत- 2079 शक संवत-1944 *अयन* - दक्षिणायन *ऋतु* - वर्षा *मास* - भाद्रपद *पक्ष* - कृष्ण *तिथि* - सप्तमी रात्रि 09:20 तक तत्पश्चात अष्टमी *नक्षत्र* - भरणी रात्रि 11:35 तक तत्पश्चात कृतिका *योग* - वृद्धि रात्रि 08:42 तक तत्पश्चात ध्रुव 🌻💐🌷 राहुकाल - दोपहर 02:20 से शाम 03:57 तक 🌹सूर्योदय - 06:17 🌹सूर्योस्त - 19:10 *दिशाशूल*- दक्षिण दिशा में ब्रह्म मुहूर्त - प्रातः 04:48 से प्रातः 05:33 तक निशिता मुहूर्त - रात्रि 12:21 से रात्रि 01:06 तक *व्रत पर्व विवरण - जन्माष्टमी 🏵️ *विशेष* - सप्तमी को ताड़ का फल खाने से रोग बढता है तथा शरीरं का नाश होता है! सप्तमी और अष्टमी की और जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाएं सभी माता जी के भक्तों को जय माता दी🎈⛳️👣🔱🐚🔔🚼🙏

+20 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 5 शेयर