हर-हर महादेव जी जय श्री राम जी जय श्री कृष्णा जी राधे राधे जी शुभ प्रभात वंदन जी भोलेनाथ बाबा की कृपा माता पार्वती का आशीर्वाद आप सभी भाई बहनों पर बना रहे ठाकुर जी आपके परिवार को सदा खुश रखे आपका दिन मंगलमय हो 🥀सुबह की राम राम जी🙏🙏🥀

+127 प्रतिक्रिया 86 कॉमेंट्स • 11 शेयर

कामेंट्स

‼️kamlesh Goyal‼️ Dec 6, 2021
@reenasingh3 हर-हर महादेव जी जय श्री राम जी जय श्री कृष्णा जी राधे राधे जी शुभ प्रभात वंदन जी भोलेनाथ बाबा की कृपा माता पार्वती का आशीर्वाद आप सभी भाई बहनों पर बना रहे ठाकुर जी आपके परिवार को सदा खुश रखे आपका दिन मंगलमय हो 🥀सुबह की राम राम जी🙏🙏🥀

‼️kamlesh Goyal‼️ Dec 6, 2021
@sanjayparashar7 हर-हर महादेव जी जय श्री राम जी जय श्री कृष्णा जी राधे राधे जी शुभ प्रभात वंदन जी भोलेनाथ बाबा की कृपा माता पार्वती का आशीर्वाद आप सभी भाई बहनों पर बना रहे ठाकुर जी आपके परिवार को सदा खुश रखे आपका दिन मंगलमय हो 🥀सुबह की राम राम जी🙏🙏🥀

‼️kamlesh Goyal‼️ Dec 6, 2021
@ansouyamundram2 जय श्री कृष्णा जय श्री कृष्णा जय श्री कृष्णा जय श्री कृष्णा जय श्री कृष्णा जय श्री कृष्णा जय श्री कृष्णा बहन🙏

‼️kamlesh Goyal‼️ Dec 6, 2021
@ansouyamundram2 हर-हर महादेव जी जय श्री राम जी जय श्री कृष्णा जी राधे राधे जी शुभ प्रभात वंदन जी भोलेनाथ बाबा की कृपा माता पार्वती का आशीर्वाद आप सभी भाई बहनों पर बना रहे ठाकुर जी आपके परिवार को सदा खुश रखे आपका दिन मंगलमय हो 🥀सुबह की राम राम जी🙏🙏🥀

‼️kamlesh Goyal‼️ Dec 6, 2021
@sarit हर-हर महादेव जी जय श्री राम जी जय श्री कृष्णा जी राधे राधे जी शुभ प्रभात वंदन जी भोलेनाथ बाबा की कृपा माता पार्वती का आशीर्वाद आप सभी भाई बहनों पर बना रहे ठाकुर जी आपके परिवार को सदा खुश रखे आपका दिन मंगलमय हो 🥀सुबह की राम राम जी🙏🙏🥀

Sushil Kumar Sharma 🙏🙏🌹🌹 Dec 6, 2021
Good Morning My Bhai ji 🙏🙏 Om Namah Shivay 🙏🙏🌹🌹💐🌹 Har Har Mahadev 🙏🙏🌹🌹 Jay Bholenath Ki Kripa Dristi Aap Our Aapke Priwar Per Hamesha Sada Bhni Rahe ji 🙏 Aapka Har Din Shub Mangalmay Ho ji 🙏🙏🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹.

‼️kamlesh Goyal‼️ Dec 6, 2021
@sushilkumarsharma29 हर-हर महादेव जी जय श्री राम जी जय श्री कृष्णा जी राधे राधे जी शुभ दोपहर वंदन जी भोलेनाथ बाबा की कृपा माता पार्वती का आशीर्वाद आप सभी भाई बहनों पर बना रहे ठाकुर जी आपके परिवार को सदा खुश रखे आपका दिन मंगलमय हो 🥀दोपहर की राम राम जी🙏🙏🥀

‼️kamlesh Goyal‼️ Dec 6, 2021
@घनश्यामबंसल हर-हर महादेव जी जय श्री राम जी जय श्री कृष्णा जी राधे राधे जी शुभ दोपहर वंदन जी भोलेनाथ बाबा की कृपा माता पार्वती का आशीर्वाद आप सभी भाई बहनों पर बना रहे ठाकुर जी आपके परिवार को सदा खुश रखे आपका दिन मंगलमय हो 🥀दोपहर की राम राम जी🙏🙏🥀

Pinu Dhiman Jai Shiva 🙏 Dec 6, 2021
अति सुन्दर प्रस्तुति भाई जी अति उत्तम 🙏🔱🙏👌🕉️👌🕉️👌🕉️👌🕉️👌🕉️

Radhe Krishna Dec 6, 2021
ओम नमः शिवाय हर हर महादेव 🙏🏻🏵️🏵️ शुभ रात्रि वंदन भाई जी 🙏🏻🌹🌹 भगवान भोलेनाथ जी की कृपा आप सपरिवार पर सदैव बनी रहे 🏵️🏵️🙏🏻

‼️kamlesh Goyal‼️ Dec 6, 2021
@radhekrishna14 हर-हर महादेव जी शुभ रात्रि वंदन जी मेरे भोलेनाथ बाबा की कृपा माता पार्वती का आशीर्वाद आप सभी भाई बहनों पर बनी रहे ठाकुर जी आपको सदा खुश रखे आने वाली सुबह ढेर सारी खुशियां लेकर आऐ 🥀🙏🥀

‼️kamlesh Goyal‼️ Dec 6, 2021
@pinudhiman हर-हर महादेव जी शुभ रात्रि वंदन जी मेरे भोलेनाथ बाबा की कृपा माता पार्वती का आशीर्वाद आप सभी भाई बहनों पर बनी रहे ठाकुर जी आपको सदा खुश रखे आने वाली सुबह ढेर सारी खुशियां लेकर आऐ 🥀🙏🥀

k s Jan 27, 2022

⛳🙏🕉️🙏🥀🌹ओम नमो भगवते वासुदेवाय नमो नमः 🙏जय गायत्री माता जी जय गुरुदेव 🙏ओम नमः शिवाय हर हर महादेव 🙏राम राम जी सबको राम राम शुभ रात्रि वंदन जी सभी पर 🙏अपने-अपने गुरुदेव महाराज जी की कृपा दृष्टि बनी रहे मंगलकामनाएं 🙏 शुभकामनाएंजी🌷🌷,✍️.........🙏जय गुरुदेव 🙏😌 गीता📙 ज्ञान की सुना दो गुरुदेव....... दर्द मेरी नस नस में 4 महीने आए 🌨️सर्दी के सर्दी ⛈️सर्दी 🌨️हो रही कंबल 🧕🙏ज्ञान का उड़ा दो गुरुदेव...... दर्द मेरी नस नस में गंगा ज्ञान की बहा दोगुरुदेव...... दर्द मेरी नस नस में दीपक🪔 ज्ञान 🪔का जला दो गुरुदेव ,.........दर्द मेरी नस नस में जय हो ✍️विद्या की देवी गायत्री माताजी जय गुरुदेव 🙏🌹🌹🕉️🌹🌹⛳⛳⛳

+18 प्रतिक्रिया 4 कॉमेंट्स • 2 शेयर
snehalata Mishra Jan 27, 2022

+56 प्रतिक्रिया 12 कॉमेंट्स • 21 शेयर

+3 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 2 शेयर

+30 प्रतिक्रिया 9 कॉमेंट्स • 27 शेयर
Mohit Sharma Jan 27, 2022

+5 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 0 शेयर

+5 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Mohit Sharma Jan 27, 2022

+4 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 0 शेयर

*🌹षटतिला एकादशी महिमा व कथा* ➡ *28 जनवरी 2021 रात्रि 02:17 AM से 28 जनवरी रात्रि 11:35 PM तक (यानी 28 जनवरी, शुक्रवार को पुरा दिन) एकादशी है ।* 💥 *विशेष - 28 जनवरी, शुक्रवार को एकादशी का व्रत (उपवास) रखें ।* ➖➖➖➖➖➖➖➖ *🌹इस दिन तिल से स्नान-होम करे, तिल का उबटन लगाये, तिल मिलाया हुआ जल पीये, तिल का दान करे और तिल को भोजन के काम में ले ।’* *🌹इस प्रकार छ: कामों में तिल का उपयोग करने के कारण यह एकादशी ‘षटतिला’ कहलाती है, जो सब पापों का नाश करनेवाली है ।* *🌹युधिष्ठिर ने श्रीकृष्ण से पूछा: भगवन् ! माघ मास के कृष्णपक्ष में कौन सी एकादशी होती है? उसके लिए कैसी विधि है तथा उसका फल क्या है ? कृपा करके ये सब बातें हमें बताइये ।* *🌹श्रीभगवान बोले: नृपश्रेष्ठ ! माघ (गुजरात महाराष्ट्र के अनुसार पौष) मास के कृष्णपक्ष की एकादशी ‘षटतिला’ के नाम से विख्यात है, जो सब पापों का नाश करनेवाली है । मुनिश्रेष्ठ पुलस्त्य ने इसकी जो पापहारिणी कथा दाल्भ्य से कही थी, उसे सुनो ।* *🌹दाल्भ्य ने पूछा: ब्रह्मन्! मृत्युलोक में आये हुए प्राणी प्राय: पापकर्म करते रहते हैं । उन्हें नरक में न जाना पड़े इसके लिए कौन सा उपाय है? बताने की कृपा करें ।* *🌹पुलस्त्यजी बोले: महाभाग ! माघ मास आने पर मनुष्य को चाहिए कि वह नहा धोकर पवित्र हो इन्द्रियसंयम रखते हुए काम, क्रोध, अहंकार ,लोभ और चुगली आदि बुराइयों को त्याग दे । देवाधिदेव भगवान का स्मरण करके जल से पैर धोकर भूमि पर पड़े हुए गोबर का संग्रह करे । उसमें तिल और कपास मिलाकर एक सौ आठ पिंडिकाएँ बनाये । फिर माघ में जब आर्द्रा या मूल नक्षत्र आये, तब कृष्णपक्ष की एकादशी करने के लिए नियम ग्रहण करें । भली भाँति स्नान करके पवित्र हो शुद्ध भाव से देवाधिदेव श्रीविष्णु की पूजा करें । कोई भूल हो जाने पर श्रीकृष्ण का नामोच्चारण करें । रात को जागरण और होम करें । चन्दन, अरगजा, कपूर, नैवेघ आदि सामग्री से शंख, चक्र और गदा धारण करनेवाले देवदेवेश्वर श्रीहरि की पूजा करें । तत्पश्चात् भगवान का स्मरण करके बारंबार श्रीकृष्ण नाम का उच्चारण करते हुए कुम्हड़े, नारियल अथवा बिजौरे के फल से भगवान को विधिपूर्वक पूजकर अर्ध्य दें । अन्य सब सामग्रियों के अभाव में सौ सुपारियों के द्वारा भी पूजन और अर्ध्यदान किया जा सकता है । अर्ध्य का मंत्र इस प्रकार है:* *कृष्ण कृष्ण कृपालुस्त्वमगतीनां गतिर्भव ।* *संसारार्णवमग्नानां प्रसीद पुरुषोत्तम ॥* *नमस्ते पुण्डरीकाक्ष नमस्ते विश्वभावन ।* *सुब्रह्मण्य नमस्तेSस्तु महापुरुष पूर्वज ॥* *गृहाणार्ध्यं मया दत्तं लक्ष्म्या सह जगत्पते ।* *🌹‘सच्चिदानन्दस्वरुप श्रीकृष्ण ! आप बड़े दयालु हैं । हम आश्रयहीन जीवों के आप आश्रयदाता होइये । हम संसार समुद्र में डूब रहे हैं, आप हम पर प्रसन्न होइये । कमलनयन ! विश्वभावन ! सुब्रह्मण्य ! महापुरुष ! सबके पूर्वज ! आपको नमस्कार है ! जगत्पते ! मेरा दिया हुआ अर्ध्य आप लक्ष्मीजी के साथ स्वीकार करें ।’* *🌹तत्पश्चात् ब्राह्मण की पूजा करें । उसे जल का घड़ा, छाता, जूता और वस्त्र दान करें । दान करते समय ऐसा कहें : ‘इस दान के द्वारा भगवान श्रीकृष्ण मुझ पर प्रसन्न हों ।’ अपनी शक्ति के अनुसार श्रेष्ठ ब्राह्मण को काली गौ का दान करें । द्विजश्रेष्ठ ! विद्वान पुरुष को चाहिए कि वह तिल से भरा हुआ पात्र भी दान करे । उन तिलों के बोने पर उनसे जितनी शाखाएँ पैदा हो सकती हैं, उतने हजार वर्षों तक वह स्वर्गलोक में प्रतिष्ठित होता है । तिल से स्नान होम करे, तिल का उबटन लगाये, तिल मिलाया हुआ जल पीये, तिल का दान करे और तिल को भोजन के काम में ले ।’* *🌹इस प्रकार हे नृपश्रेष्ठ ! छ: कामों में तिल का उपयोग करने के कारण यह एकादशी ‘षटतिला’ कहलाती है, जो सब पापों का नाश करनेवाली है ।* *🌹व्रत खोलने की विधि : द्वादशी को सेवापूजा की जगह पर बैठकर भुने हुए सात चनों के चौदह टुकड़े करके अपने सिर के पीछे फेंकना चाहिए । ‘मेरे सात जन्मों के शारीरिक, वाचिक और मानसिक पाप नष्ट हुए’ - यह भावना करके सात अंजलि जल पीना और चने के सात दाने खाकर व्रत खोलना चाहिए ।* 🌹🌹🌹🌹🌹🌹

+10 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 11 शेयर
Vandana Singh Jan 27, 2022

+3 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 3 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB