🚩🏹🌹जय श्री राम🌹🏹🚩 🔱🌿🌹ॐ नमः शिवाय 🌹🌿🔱 🌹🏵️🚩जय श्री हनुमान जी🚩🏵️🌹 🚩🩸🏵️जय श्री शनिदेव🏵️🩸🚩 🌺🔥🌻 सुप्रभात🌻🔥🌺 🙏आपको सपरिवार पवित्र सावन माह के तीसरे शुभ शनिवार की हार्दिक शुभकामनाएं 🙏 👏आप और आपके पूरे परिवार पर बाबा भोलेनाथ, श्री राम भक्त हनुमान जी और श्री शनिदेव जी की कृपा हमेशा बनी रहे🔥 👏आपका का दिन शुभऔर मंगलमय हो🌺 🌹#कथा#🌹 *********** 🎎एक बार की बात है , वीणा बजाते हुए नारद मुनि भगवान श्रीराम के द्वार पर पहुँचे। नारायण नारायण !! नारदजी ने देखा कि द्वार पर हनुमान जी पहरा दे रहे है। ⚛️हनुमान जी ने पूछा: नारद मुनि ! कहाँ जा रहे हो? नारदजी बोले: मैं प्रभु से मिलने आया हूँ। नारदजी ने हनुमानजी से पूछा प्रभु इस समय क्या कर रहे है? हनुमानजी बोले: पता नहीं पर कुछ बही खाते का काम कर रहे है, प्रभु बही खाते में कुछ लिख रहे है। नारदजी: अच्छा?? क्या लिखा पढ़ी कर रहे है? हनुमानजी बोले: मुझे पता नहीं मुनिवर आप खुद ही देख आना। ❄️नारद मुनि गए प्रभु के पास और देखा कि प्रभु कुछ लिख रहे है। नारद जी बोले: प्रभु आप बही खाते का काम कर रहे है? ये काम तो किसी मुनीम को दे दीजिए। प्रभु बोले: नहीं नारद, मेरा काम मुझे ही करना पड़ता है। ये काम मैं किसी और को नही सौंप सकता। नारद जी: अच्छा प्रभु ऐसा क्या काम है? ऐसा आप इस बही खाते में क्या लिख रहे हो? प्रभु बोले: तुम क्या करोगे देखकर, जाने दो। नारद जी बोले: नही प्रभु बताईये ऐसा आप इस बही खाते में क्या लिखते हैं? 🌹प्रभु बोले: नारद इस बही खाते में उन भक्तों के नाम है जो मुझे हर पल भजते हैं। मैं उनकी नित्य हाजिरी लगाता हूँ। नारद जी: अच्छा प्रभु जरा बताईये तो मेरा नाम कहाँ पर है? नारदमुनि ने बही खाते को खोल कर देखा तो उनका नाम सबसे ऊपर था। नारद जी को गर्व हो गया कि देखो मुझे मेरे प्रभु सबसे ज्यादा भक्त मानते है। पर नारद जी ने देखा कि हनुमान जी का नाम उस बही खाते में कहीं नही है? नारद जी सोचने लगे कि हनुमान जी तो प्रभु श्रीराम जी के खास भक्त है फिर उनका नाम, इस बही खाते में क्यों नही है? क्या प्रभु उनको भूल गए है? नारद मुनि आये हनुमान जी के पास बोले: हनुमान ! प्रभु के बही खाते में उन सब भक्तों के नाम हैं जो नित्य प्रभु को भजते हैं पर आप का नाम उस में कहीं नहीं है? हनुमानजी ने कहा कि: मुनिवर,! होगा, आप ने शायद ठीक से नहीं देखा होगा? नारदजी बोले: नहीं नहीं मैंने ध्यान से देखा पर आप का नाम कहीं नही था। 🎎हनुमानजी ने कहा: अच्छा कोई बात नहीं। शायद प्रभु ने मुझे इस लायक नही समझा होगा जो मेरा नाम उस बही खाते में लिखा जाये। पर नारद जी प्रभु एक अन्य दैनंदिनी भी रखते है उसमें भी वे नित्य कुछ लिखते हैं। नारदजी बोले:अच्छा? हनुमानजी ने कहा: हाँ! नारदमुनि फिर गये प्रभु श्रीराम के पास और बोले प्रभु ! सुना है कि आप अपनी अलग से दैनंदिनी भी रखते है! उसमें आप क्या लिखते हैं? प्रभु श्रीराम बोले: हाँ! पर वो तुम्हारे काम की नहीं है। नारदजी: ''प्रभु ! बताईये ना, मैं देखना चाहता हूँ कि आप उसमें क्या लिखते हैं? प्रभु मुस्कुराये और बोले मुनिवर मैं इनमें उन भक्तों के नाम लिखता हूँ जिन को मैं नित्य भजता हूँ। नारदजी ने डायरी खोल कर देखा तो उसमें सबसे ऊपर हनुमान जी का नाम था। ये देख कर नारदजी का अभिमान टूट गया। कहने का तात्पर्य यह है कि जो भगवान को सिर्फ जीव्हा से भजते है उनको प्रभु अपना भक्त मानते हैं और जो ह्रदय से भजते है उन भक्तों के वे स्वयं भक्त हो जाते हैं। ऐसे भक्तों को प्रभु अपनी हृदय रूपी विशेष सूची में रखते हैं। 🚩🌿🌹जय श्री राम 🌹🌿🚩 🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹 🦚🦚🦚🦚🦚🦚🦚🦚🦚🦚🦚🦚🦚

🚩🏹🌹जय श्री राम🌹🏹🚩
🔱🌿🌹ॐ नमः शिवाय 🌹🌿🔱
🌹🏵️🚩जय श्री हनुमान जी🚩🏵️🌹
🚩🩸🏵️जय श्री शनिदेव🏵️🩸🚩
🌺🔥🌻 सुप्रभात🌻🔥🌺
🙏आपको सपरिवार पवित्र सावन माह के तीसरे शुभ शनिवार की हार्दिक शुभकामनाएं 🙏
👏आप और आपके पूरे परिवार पर बाबा भोलेनाथ, श्री राम भक्त हनुमान जी और श्री शनिदेव जी की  कृपा हमेशा बनी रहे🔥
 👏आपका का दिन शुभऔर मंगलमय हो🌺
                  🌹#कथा#🌹
                   ***********
🎎एक बार की बात है , वीणा बजाते हुए नारद मुनि भगवान श्रीराम के द्वार पर पहुँचे।
नारायण नारायण !!
नारदजी ने देखा कि द्वार पर हनुमान जी पहरा दे रहे है।
⚛️हनुमान जी ने पूछा: नारद मुनि ! कहाँ जा रहे हो?
नारदजी बोले: मैं प्रभु से मिलने आया हूँ। नारदजी ने हनुमानजी से पूछा प्रभु इस समय क्या कर रहे है?
हनुमानजी बोले: पता नहीं पर कुछ बही खाते का काम कर रहे है, प्रभु बही खाते में कुछ लिख रहे है।
नारदजी: अच्छा?? क्या लिखा पढ़ी कर रहे है?
हनुमानजी बोले: मुझे पता नहीं मुनिवर आप खुद ही देख आना।

❄️नारद मुनि गए प्रभु के पास और देखा कि प्रभु कुछ लिख रहे है।

नारद जी बोले: प्रभु आप बही खाते का काम कर रहे है? ये काम तो किसी मुनीम को दे दीजिए।

प्रभु बोले: नहीं नारद, मेरा काम मुझे ही करना पड़ता है। ये काम मैं किसी और को नही सौंप सकता।

नारद जी: अच्छा प्रभु ऐसा क्या काम है? ऐसा आप इस बही खाते में क्या लिख रहे हो?

प्रभु बोले: तुम क्या करोगे देखकर, जाने दो।

नारद जी बोले: नही प्रभु बताईये ऐसा आप इस बही खाते में क्या लिखते हैं?

🌹प्रभु बोले: नारद इस बही खाते में उन भक्तों के नाम है जो मुझे हर पल भजते हैं। मैं उनकी नित्य हाजिरी लगाता हूँ।

नारद जी: अच्छा प्रभु जरा बताईये तो मेरा नाम कहाँ पर है? नारदमुनि ने बही खाते को खोल कर देखा तो उनका नाम सबसे ऊपर था। नारद जी को गर्व हो गया कि देखो मुझे मेरे प्रभु सबसे ज्यादा भक्त मानते है। पर नारद जी ने देखा कि हनुमान जी का नाम उस बही खाते में कहीं नही है? नारद जी सोचने लगे कि हनुमान जी तो प्रभु श्रीराम जी के खास भक्त है फिर उनका नाम, इस बही खाते में क्यों नही है? क्या प्रभु उनको भूल गए है?

नारद मुनि आये हनुमान जी के पास बोले: हनुमान ! प्रभु के बही खाते में उन सब भक्तों के नाम हैं जो नित्य प्रभु को भजते हैं पर आप का नाम उस में कहीं नहीं है?

हनुमानजी ने कहा कि: मुनिवर,! होगा, आप ने शायद ठीक से नहीं देखा होगा?

नारदजी बोले: नहीं नहीं मैंने ध्यान से देखा पर आप का नाम कहीं नही था।

🎎हनुमानजी ने कहा: अच्छा कोई बात नहीं। शायद प्रभु ने मुझे इस लायक नही समझा होगा जो मेरा नाम उस बही खाते में लिखा जाये। पर नारद जी प्रभु एक अन्य दैनंदिनी भी रखते है उसमें भी वे नित्य कुछ लिखते हैं।

नारदजी बोले:अच्छा?

हनुमानजी ने कहा: हाँ!

नारदमुनि फिर गये प्रभु श्रीराम के पास और बोले प्रभु ! सुना है कि आप अपनी अलग से दैनंदिनी भी रखते है! उसमें आप क्या लिखते हैं?

प्रभु श्रीराम बोले: हाँ! पर वो तुम्हारे काम की नहीं है।

नारदजी: ''प्रभु ! बताईये ना, मैं देखना चाहता हूँ कि आप उसमें क्या लिखते हैं?

प्रभु मुस्कुराये और बोले मुनिवर मैं इनमें उन भक्तों के नाम लिखता हूँ जिन को मैं नित्य भजता हूँ।

नारदजी ने डायरी खोल कर देखा तो उसमें सबसे ऊपर हनुमान जी का नाम था। ये देख कर नारदजी का अभिमान टूट गया।

कहने का तात्पर्य यह है कि जो भगवान को सिर्फ जीव्हा से भजते है उनको प्रभु अपना भक्त मानते हैं और जो ह्रदय से भजते है उन भक्तों के वे स्वयं भक्त हो जाते हैं। ऐसे भक्तों को प्रभु अपनी हृदय रूपी विशेष सूची में रखते हैं।
🚩🌿🌹जय श्री राम 🌹🌿🚩
🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹
🦚🦚🦚🦚🦚🦚🦚🦚🦚🦚🦚🦚🦚
🚩🏹🌹जय श्री राम🌹🏹🚩
🔱🌿🌹ॐ नमः शिवाय 🌹🌿🔱
🌹🏵️🚩जय श्री हनुमान जी🚩🏵️🌹
🚩🩸🏵️जय श्री शनिदेव🏵️🩸🚩
🌺🔥🌻 सुप्रभात🌻🔥🌺
🙏आपको सपरिवार पवित्र सावन माह के तीसरे शुभ शनिवार की हार्दिक शुभकामनाएं 🙏
👏आप और आपके पूरे परिवार पर बाबा भोलेनाथ, श्री राम भक्त हनुमान जी और श्री शनिदेव जी की  कृपा हमेशा बनी रहे🔥
 👏आपका का दिन शुभऔर मंगलमय हो🌺
                  🌹#कथा#🌹
                   ***********
🎎एक बार की बात है , वीणा बजाते हुए नारद मुनि भगवान श्रीराम के द्वार पर पहुँचे।
नारायण नारायण !!
नारदजी ने देखा कि द्वार पर हनुमान जी पहरा दे रहे है।
⚛️हनुमान जी ने पूछा: नारद मुनि ! कहाँ जा रहे हो?
नारदजी बोले: मैं प्रभु से मिलने आया हूँ। नारदजी ने हनुमानजी से पूछा प्रभु इस समय क्या कर रहे है?
हनुमानजी बोले: पता नहीं पर कुछ बही खाते का काम कर रहे है, प्रभु बही खाते में कुछ लिख रहे है।
नारदजी: अच्छा?? क्या लिखा पढ़ी कर रहे है?
हनुमानजी बोले: मुझे पता नहीं मुनिवर आप खुद ही देख आना।

❄️नारद मुनि गए प्रभु के पास और देखा कि प्रभु कुछ लिख रहे है।

नारद जी बोले: प्रभु आप बही खाते का काम कर रहे है? ये काम तो किसी मुनीम को दे दीजिए।

प्रभु बोले: नहीं नारद, मेरा काम मुझे ही करना पड़ता है। ये काम मैं किसी और को नही सौंप सकता।

नारद जी: अच्छा प्रभु ऐसा क्या काम है? ऐसा आप इस बही खाते में क्या लिख रहे हो?

प्रभु बोले: तुम क्या करोगे देखकर, जाने दो।

नारद जी बोले: नही प्रभु बताईये ऐसा आप इस बही खाते में क्या लिखते हैं?

🌹प्रभु बोले: नारद इस बही खाते में उन भक्तों के नाम है जो मुझे हर पल भजते हैं। मैं उनकी नित्य हाजिरी लगाता हूँ।

नारद जी: अच्छा प्रभु जरा बताईये तो मेरा नाम कहाँ पर है? नारदमुनि ने बही खाते को खोल कर देखा तो उनका नाम सबसे ऊपर था। नारद जी को गर्व हो गया कि देखो मुझे मेरे प्रभु सबसे ज्यादा भक्त मानते है। पर नारद जी ने देखा कि हनुमान जी का नाम उस बही खाते में कहीं नही है? नारद जी सोचने लगे कि हनुमान जी तो प्रभु श्रीराम जी के खास भक्त है फिर उनका नाम, इस बही खाते में क्यों नही है? क्या प्रभु उनको भूल गए है?

नारद मुनि आये हनुमान जी के पास बोले: हनुमान ! प्रभु के बही खाते में उन सब भक्तों के नाम हैं जो नित्य प्रभु को भजते हैं पर आप का नाम उस में कहीं नहीं है?

हनुमानजी ने कहा कि: मुनिवर,! होगा, आप ने शायद ठीक से नहीं देखा होगा?

नारदजी बोले: नहीं नहीं मैंने ध्यान से देखा पर आप का नाम कहीं नही था।

🎎हनुमानजी ने कहा: अच्छा कोई बात नहीं। शायद प्रभु ने मुझे इस लायक नही समझा होगा जो मेरा नाम उस बही खाते में लिखा जाये। पर नारद जी प्रभु एक अन्य दैनंदिनी भी रखते है उसमें भी वे नित्य कुछ लिखते हैं।

नारदजी बोले:अच्छा?

हनुमानजी ने कहा: हाँ!

नारदमुनि फिर गये प्रभु श्रीराम के पास और बोले प्रभु ! सुना है कि आप अपनी अलग से दैनंदिनी भी रखते है! उसमें आप क्या लिखते हैं?

प्रभु श्रीराम बोले: हाँ! पर वो तुम्हारे काम की नहीं है।

नारदजी: ''प्रभु ! बताईये ना, मैं देखना चाहता हूँ कि आप उसमें क्या लिखते हैं?

प्रभु मुस्कुराये और बोले मुनिवर मैं इनमें उन भक्तों के नाम लिखता हूँ जिन को मैं नित्य भजता हूँ।

नारदजी ने डायरी खोल कर देखा तो उसमें सबसे ऊपर हनुमान जी का नाम था। ये देख कर नारदजी का अभिमान टूट गया।

कहने का तात्पर्य यह है कि जो भगवान को सिर्फ जीव्हा से भजते है उनको प्रभु अपना भक्त मानते हैं और जो ह्रदय से भजते है उन भक्तों के वे स्वयं भक्त हो जाते हैं। ऐसे भक्तों को प्रभु अपनी हृदय रूपी विशेष सूची में रखते हैं।
🚩🌿🌹जय श्री राम 🌹🌿🚩
🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹
🦚🦚🦚🦚🦚🦚🦚🦚🦚🦚🦚🦚🦚
🚩🏹🌹जय श्री राम🌹🏹🚩
🔱🌿🌹ॐ नमः शिवाय 🌹🌿🔱
🌹🏵️🚩जय श्री हनुमान जी🚩🏵️🌹
🚩🩸🏵️जय श्री शनिदेव🏵️🩸🚩
🌺🔥🌻 सुप्रभात🌻🔥🌺
🙏आपको सपरिवार पवित्र सावन माह के तीसरे शुभ शनिवार की हार्दिक शुभकामनाएं 🙏
👏आप और आपके पूरे परिवार पर बाबा भोलेनाथ, श्री राम भक्त हनुमान जी और श्री शनिदेव जी की  कृपा हमेशा बनी रहे🔥
 👏आपका का दिन शुभऔर मंगलमय हो🌺
                  🌹#कथा#🌹
                   ***********
🎎एक बार की बात है , वीणा बजाते हुए नारद मुनि भगवान श्रीराम के द्वार पर पहुँचे।
नारायण नारायण !!
नारदजी ने देखा कि द्वार पर हनुमान जी पहरा दे रहे है।
⚛️हनुमान जी ने पूछा: नारद मुनि ! कहाँ जा रहे हो?
नारदजी बोले: मैं प्रभु से मिलने आया हूँ। नारदजी ने हनुमानजी से पूछा प्रभु इस समय क्या कर रहे है?
हनुमानजी बोले: पता नहीं पर कुछ बही खाते का काम कर रहे है, प्रभु बही खाते में कुछ लिख रहे है।
नारदजी: अच्छा?? क्या लिखा पढ़ी कर रहे है?
हनुमानजी बोले: मुझे पता नहीं मुनिवर आप खुद ही देख आना।

❄️नारद मुनि गए प्रभु के पास और देखा कि प्रभु कुछ लिख रहे है।

नारद जी बोले: प्रभु आप बही खाते का काम कर रहे है? ये काम तो किसी मुनीम को दे दीजिए।

प्रभु बोले: नहीं नारद, मेरा काम मुझे ही करना पड़ता है। ये काम मैं किसी और को नही सौंप सकता।

नारद जी: अच्छा प्रभु ऐसा क्या काम है? ऐसा आप इस बही खाते में क्या लिख रहे हो?

प्रभु बोले: तुम क्या करोगे देखकर, जाने दो।

नारद जी बोले: नही प्रभु बताईये ऐसा आप इस बही खाते में क्या लिखते हैं?

🌹प्रभु बोले: नारद इस बही खाते में उन भक्तों के नाम है जो मुझे हर पल भजते हैं। मैं उनकी नित्य हाजिरी लगाता हूँ।

नारद जी: अच्छा प्रभु जरा बताईये तो मेरा नाम कहाँ पर है? नारदमुनि ने बही खाते को खोल कर देखा तो उनका नाम सबसे ऊपर था। नारद जी को गर्व हो गया कि देखो मुझे मेरे प्रभु सबसे ज्यादा भक्त मानते है। पर नारद जी ने देखा कि हनुमान जी का नाम उस बही खाते में कहीं नही है? नारद जी सोचने लगे कि हनुमान जी तो प्रभु श्रीराम जी के खास भक्त है फिर उनका नाम, इस बही खाते में क्यों नही है? क्या प्रभु उनको भूल गए है?

नारद मुनि आये हनुमान जी के पास बोले: हनुमान ! प्रभु के बही खाते में उन सब भक्तों के नाम हैं जो नित्य प्रभु को भजते हैं पर आप का नाम उस में कहीं नहीं है?

हनुमानजी ने कहा कि: मुनिवर,! होगा, आप ने शायद ठीक से नहीं देखा होगा?

नारदजी बोले: नहीं नहीं मैंने ध्यान से देखा पर आप का नाम कहीं नही था।

🎎हनुमानजी ने कहा: अच्छा कोई बात नहीं। शायद प्रभु ने मुझे इस लायक नही समझा होगा जो मेरा नाम उस बही खाते में लिखा जाये। पर नारद जी प्रभु एक अन्य दैनंदिनी भी रखते है उसमें भी वे नित्य कुछ लिखते हैं।

नारदजी बोले:अच्छा?

हनुमानजी ने कहा: हाँ!

नारदमुनि फिर गये प्रभु श्रीराम के पास और बोले प्रभु ! सुना है कि आप अपनी अलग से दैनंदिनी भी रखते है! उसमें आप क्या लिखते हैं?

प्रभु श्रीराम बोले: हाँ! पर वो तुम्हारे काम की नहीं है।

नारदजी: ''प्रभु ! बताईये ना, मैं देखना चाहता हूँ कि आप उसमें क्या लिखते हैं?

प्रभु मुस्कुराये और बोले मुनिवर मैं इनमें उन भक्तों के नाम लिखता हूँ जिन को मैं नित्य भजता हूँ।

नारदजी ने डायरी खोल कर देखा तो उसमें सबसे ऊपर हनुमान जी का नाम था। ये देख कर नारदजी का अभिमान टूट गया।

कहने का तात्पर्य यह है कि जो भगवान को सिर्फ जीव्हा से भजते है उनको प्रभु अपना भक्त मानते हैं और जो ह्रदय से भजते है उन भक्तों के वे स्वयं भक्त हो जाते हैं। ऐसे भक्तों को प्रभु अपनी हृदय रूपी विशेष सूची में रखते हैं।
🚩🌿🌹जय श्री राम 🌹🌿🚩
🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹
🦚🦚🦚🦚🦚🦚🦚🦚🦚🦚🦚🦚🦚

+205 प्रतिक्रिया 62 कॉमेंट्स • 47 शेयर

कामेंट्स

🌹GEETA DEVI🌹 Jul 30, 2022
🌹🌸🙏JAI SHREE RADHEY KRISHNA JI 🙏🌸🌹 SUBH DOPEHAR... 🔔🔔🎉 HEY! KARUNAMAYI SHREE RADHEY RANI JI KIRPA BARSAYE RAKHNA...!! MITRATA DIWAS KI HARDIK SUBHKAMNAIYE MERE PYARE BADE AADRNIYE BHAIYA JI 🍫🍫🍫🎂🎂🎂🍫🍫🍫 🎁🎁🎁🎀🎀🎀🎁🎁🎁 🎊🎊🎂🤗🤗🎂🎊🎊 🎈🎉🎈🎉🎈🎉🎈🎉🎈🎉 🥀🥀🥀🍀🙏🙏🍀🥀🥀🥀 🍀🍀🥀🥀🙏🙏🥀🥀🍀🍀

🌹GEETA DEVI🌹 Jul 30, 2022
JAI SHREE RAM...🙏🌹🌹 JAI MAHAVEER HANUMAN JI 🌹🌹🎊🙏🙏🎊🌹🌹

Ragni Dhiwer Jul 30, 2022
🥀 शुभ मध्याह्न स्नेह वंदन भैया जी 🙏ईश्वर का आशीर्वाद.....*🥀 सदैव आप पर.....*🌼बना रहे......!🥀 राधे राधे जी🥀जय श्री कृष्ण 🥀🙏🥀

Runa Sinha Jul 30, 2022
जय श्री राधे-राधे भाई 🙏आपका हर दिन शुभ व मंगलमय हो🌿🙏🌿

Ashwin r chauhan Jul 30, 2022
मित्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं जय शनिदेव शुभ शनिवार सूर्य पुत्र शनिदेव और राम भक्त हनुमान जी की कृपा आप पर आप के पुरे परिवार पर सदेव बनी रहे आप का हर पल मंगल एवं शुभ रहे न्याय के देवता शनिदेव महाराज आप की हर मनोकामना पूरी करे आप का आने वाला दिन शुभ रहे शुभ दोपहर वंदन भाईजी जय श्री कृष्णा हर हर महादेव

BABU TRILOCHAN Jul 30, 2022
JAY SHREE RAM 👏 JAY JAY HANUMAN 👏 PRANAM APANAKU MORA HRUDAYRU SUVA SAKAL RA SUVA KAMANA SUVARTRE 🌹👏 SUVA RATRERA SUVA KAMANA SUVASAKALA PRANAM GHENA 🌹👏 SUVA DOPAHAR SUVA KAMANA 👏 PRANAM GHENA 🌹👏

N.p Jul 30, 2022
🙏good afternoon ji 🙏 🌹jai shree shani dev 🌹 🌹jai shree ram 🌹 🌹shree ram prabhu ka aashirwad evm shree shani dev maharaj ki krapa dristi sada aap or app ke pariwar par bani rahe 🌹

Reena Singh Jul 30, 2022
Jai Shree Ram Jai Hanuman ji🙏 Jai Shanidev ji🌹🙏. good afternoon vandan bhai ji🌹 Shree Ram bhakt Hanuman ji v Shanidev ji ki kripa aap sapariwar par sda bani rahe aapka har pal shubh mangalmay ho bhai ji🌹🙏🌹

Brajesh Sharma Jul 30, 2022
राम राम जी जय जय श्री राम ॐ शं शनैश्चराय नमः ॐ शं शनैश्चराय नमः जय जय श्री राधे कृष्णा जी ॐ नमः शिवाय.. हर हर महादेव खुश रहें मस्त रहें स्वस्थ रहें

N.p Jul 30, 2022
🙏good evening ji 🙏 🌹jai shree ram 🌹 🌹jai shani dev 🌹 🌹shree ram prabhu ka aashirwad evm shani dev ki krapa dristi sada aap ke pariwar par bani rahe 🌹

Kanta Jul 30, 2022
Om namah Shivay har har mahadev ji ki kirpa bni rhe aap pr or aapke pariwar pr 🌹 good evening ji 🌹 happy international friendship day Aapko or aapke pariwar ko 🌹

Ⓜ️जय माता दी🅿️ Jul 30, 2022
🌹Ⓜ️🅿️ जय माता दी शुभ संध्या भाई जी अंतरराष्ट्रीय 🚩हैप्पी मित्रता दिवस की ढेरों सारी शुभकामनाएं🤝👫 हर पल हर जी शुभ मंगलमय हो 🌹🌹 राधे राधे जी जय श्री।। कृष्णा जी शुभ संध्या शुभ वंदन जी 🤱🙏 〽️⚜️ हैप्पी श्रावण शुभ सावन की ⚜️〽️ शुभकामनाएं हर हर महादेव जय भोलेनाथ 🥀🤱 राधे कृष्ण राधे राधे जी 🤱🥀

R.K.SONI (Ganesh Mandir) Jul 30, 2022
𝙹𝚊𝚒 𝚜𝚑𝚛𝚎𝚎 𝚛𝚊𝚖 𝚟𝚊𝚗𝚍𝚊𝚗 𝚓𝚒. 🙏𝚊𝚊𝚙 𝚑𝚖𝚎𝚜𝚑𝚣 𝚔𝚑𝚞𝚜𝚑 𝚛𝚑𝚎 𝚓𝚒. 𝚟. 𝚗𝚒𝚌𝚎 𝚙𝚘𝚜𝚝 ji👌👌👌👌🌹🌹🌹🌹🌹🙏🙏🙏

Anup Kumar Sinha Jul 30, 2022
जय श्री राम 🙏🙏 शुभ संध्या वंदन,भाई जी । पवनपुत्र हनुमानजी एवं न्याय के देवता शनिदेव आपके पथ में आनेवाले सभी बाधाओं को दूर कर आपके जीवन को खुशियों से भर दें 🙏🌻

🌿गौ🕉️री🌿 Jul 30, 2022
🙏🙏Har Har Mahadev ji🌷 🌷good night ji🌿🌿🌿🕉️🕉️🕉️🕉️🌿🌿🌿🌿🌿🌿🌿

मदन पाल सिंह Jul 30, 2022
जय श्री राम जी शूभ प्रभात वंदन जी पवन सुत हनुमान जी कि कृपा आप व आपके परिवार पर बनीं रहे जी 🌷🌷🌷🌷🙏🏼🙏🏼🙏🏼🙏🏼🚩

Anil Jul 31, 2022
good morning ji 🌹🙏🌹

🌹🌷P Kumar🌷🌹 Jul 31, 2022
🙏🌷सुप्रभात🌷🙏 🙏🌷जय श्री राम🌷🙏 🙏🌷जय हनुमान🌷🙏 🙏🌷जय माता की🌷🙏 🙏🌷ॐ नमः शिवाय🌷🙏 🙏🌷हर हर महादेव🌷🙏 🙏🌷जय श्री महाकाल🌷🙏 🙏🌷ॐ नमो भगवते वासुदेवाय🌷🙏 🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩 🕉️🕉️🕉️🕉️🕉️🕉️🕉️🕉️🕉️🕉️🕉️ 🌷🌷🌷🌷🌷🌷🌷🌷🌷🌷🌷 🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏

+5 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 18 शेयर
Bindu Singh Jul 30, 2022

+123 प्रतिक्रिया 35 कॉमेंट्स • 205 शेयर
Kanta Jul 29, 2022

+81 प्रतिक्रिया 14 कॉमेंट्स • 175 शेयर
Gopi Nath Yadav Jul 30, 2022

+120 प्रतिक्रिया 32 कॉमेंट्स • 11 शेयर

+31 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 89 शेयर
anju singh Jul 30, 2022

+37 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 49 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB