Anju Mishra
Anju Mishra Nov 25, 2021

जय श्री राधे कृष्णा *हे कृष्ण.... 🌸* 🌸जब छोड़ चलु इस दुनिया को, होठों पर नाम तुम्हारा हो, जब छोड़ चलु इस दुनिया को, होठों पर नाम तुम्हारा हो 🌸चाहे स्वर्ग मिले या नर्क मिले, हृदय में वास तुम्हारा हो तन श्याम नाम की चादर हो, जब गहरी नींद में सोयी रहूँ कानो में मेरे गुंजित हो, कान्हा बस नाम तुम्हारा हो 🌸रस्ते में तुम्हारा मंदिर हो, जब मंजिल को प्रस्थान करूँ चौखट पे तेरी मनमोहन, अंतिम प्रणाम हमारा हो 🌸उस वक्त कन्हैया आ जाना, जब चिता पर जाके शयन करूँ मेरे मुख में तुलसी दल देना, इतना बस काम तुम्हारा हो 🌸गर सेवा की मैंने तेरी, तो उसका ये उपहार मिले इस तुच्छ भगत का साँवरिये, नहीं आना कभी भी दुबारा हो 🌸जब छोड़ चलु इस दुनिया को, होठों पर नाम तुम्हारा हो चाहे स्वर्ग मिले या नर्क मिले, ह्रदय में वास तुम्हारा हो. *⛅ राधे राधे*

जय श्री राधे कृष्णा
*हे कृष्ण.... 
🌸* 🌸जब छोड़ चलु इस दुनिया को,
 होठों पर नाम तुम्हारा हो, 
जब छोड़ चलु इस दुनिया को, 
होठों पर नाम तुम्हारा हो 
🌸चाहे स्वर्ग मिले या नर्क मिले, 
हृदय में वास तुम्हारा हो तन श्याम नाम की चादर हो, 
जब गहरी नींद में सोयी रहूँ कानो में मेरे गुंजित हो, 
कान्हा बस नाम तुम्हारा हो
🌸रस्ते में तुम्हारा मंदिर हो, 
जब मंजिल को प्रस्थान करूँ चौखट पे तेरी मनमोहन, अंतिम प्रणाम हमारा हो 
🌸उस वक्त कन्हैया आ जाना, 
जब चिता पर जाके शयन करूँ 
मेरे मुख में तुलसी दल देना, 
इतना बस काम तुम्हारा हो 
🌸गर सेवा की मैंने तेरी, 
तो उसका ये उपहार मिले 
इस तुच्छ भगत का साँवरिये, 
नहीं आना कभी भी दुबारा हो
🌸जब छोड़ चलु इस दुनिया को, 
होठों पर नाम तुम्हारा हो
 चाहे स्वर्ग मिले या नर्क मिले, 
ह्रदय में वास तुम्हारा हो. 
*⛅ राधे राधे*
जय श्री राधे कृष्णा
*हे कृष्ण.... 
🌸* 🌸जब छोड़ चलु इस दुनिया को,
 होठों पर नाम तुम्हारा हो, 
जब छोड़ चलु इस दुनिया को, 
होठों पर नाम तुम्हारा हो 
🌸चाहे स्वर्ग मिले या नर्क मिले, 
हृदय में वास तुम्हारा हो तन श्याम नाम की चादर हो, 
जब गहरी नींद में सोयी रहूँ कानो में मेरे गुंजित हो, 
कान्हा बस नाम तुम्हारा हो
🌸रस्ते में तुम्हारा मंदिर हो, 
जब मंजिल को प्रस्थान करूँ चौखट पे तेरी मनमोहन, अंतिम प्रणाम हमारा हो 
🌸उस वक्त कन्हैया आ जाना, 
जब चिता पर जाके शयन करूँ 
मेरे मुख में तुलसी दल देना, 
इतना बस काम तुम्हारा हो 
🌸गर सेवा की मैंने तेरी, 
तो उसका ये उपहार मिले 
इस तुच्छ भगत का साँवरिये, 
नहीं आना कभी भी दुबारा हो
🌸जब छोड़ चलु इस दुनिया को, 
होठों पर नाम तुम्हारा हो
 चाहे स्वर्ग मिले या नर्क मिले, 
ह्रदय में वास तुम्हारा हो. 
*⛅ राधे राधे*
जय श्री राधे कृष्णा
*हे कृष्ण.... 
🌸* 🌸जब छोड़ चलु इस दुनिया को,
 होठों पर नाम तुम्हारा हो, 
जब छोड़ चलु इस दुनिया को, 
होठों पर नाम तुम्हारा हो 
🌸चाहे स्वर्ग मिले या नर्क मिले, 
हृदय में वास तुम्हारा हो तन श्याम नाम की चादर हो, 
जब गहरी नींद में सोयी रहूँ कानो में मेरे गुंजित हो, 
कान्हा बस नाम तुम्हारा हो
🌸रस्ते में तुम्हारा मंदिर हो, 
जब मंजिल को प्रस्थान करूँ चौखट पे तेरी मनमोहन, अंतिम प्रणाम हमारा हो 
🌸उस वक्त कन्हैया आ जाना, 
जब चिता पर जाके शयन करूँ 
मेरे मुख में तुलसी दल देना, 
इतना बस काम तुम्हारा हो 
🌸गर सेवा की मैंने तेरी, 
तो उसका ये उपहार मिले 
इस तुच्छ भगत का साँवरिये, 
नहीं आना कभी भी दुबारा हो
🌸जब छोड़ चलु इस दुनिया को, 
होठों पर नाम तुम्हारा हो
 चाहे स्वर्ग मिले या नर्क मिले, 
ह्रदय में वास तुम्हारा हो. 
*⛅ राधे राधे*
जय श्री राधे कृष्णा
*हे कृष्ण.... 
🌸* 🌸जब छोड़ चलु इस दुनिया को,
 होठों पर नाम तुम्हारा हो, 
जब छोड़ चलु इस दुनिया को, 
होठों पर नाम तुम्हारा हो 
🌸चाहे स्वर्ग मिले या नर्क मिले, 
हृदय में वास तुम्हारा हो तन श्याम नाम की चादर हो, 
जब गहरी नींद में सोयी रहूँ कानो में मेरे गुंजित हो, 
कान्हा बस नाम तुम्हारा हो
🌸रस्ते में तुम्हारा मंदिर हो, 
जब मंजिल को प्रस्थान करूँ चौखट पे तेरी मनमोहन, अंतिम प्रणाम हमारा हो 
🌸उस वक्त कन्हैया आ जाना, 
जब चिता पर जाके शयन करूँ 
मेरे मुख में तुलसी दल देना, 
इतना बस काम तुम्हारा हो 
🌸गर सेवा की मैंने तेरी, 
तो उसका ये उपहार मिले 
इस तुच्छ भगत का साँवरिये, 
नहीं आना कभी भी दुबारा हो
🌸जब छोड़ चलु इस दुनिया को, 
होठों पर नाम तुम्हारा हो
 चाहे स्वर्ग मिले या नर्क मिले, 
ह्रदय में वास तुम्हारा हो. 
*⛅ राधे राधे*

+51 प्रतिक्रिया 11 कॉमेंट्स • 3 शेयर

कामेंट्स

Sushil Kumar Sharma 🙏🙏🌹🌹 Nov 25, 2021
Good Afternoon My Sister ji 🙏🙏 Om Namo Bhagwate Vasudevay Namah 🙏🙏🌹🌹 Om Namo Lakshmi Narayan Namah 🙏🙏🌹🌹🌹 Ki Kripa Dristi Aap Our Aapke Priwar Per Hamesha Sada Bhni Rahe ji 🙏 Aapka Har Din Shub Mangalmay Ho ji 🙏🙏🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹

Rajpal Singh Nov 25, 2021
jai shree krishna Radhey Radhey ji good evening ji 🙏🙏🙏🙏

Renu Singh Nov 25, 2021
Jai Shree Radhe Krishna 🙏🌹 Shubh Sandhya Vandan Pyari Bahana Ji 🙏 Thakur Ji ki kripa Aap Sapriwar pr Sadaiv Bni rhe Bahan 🙏🌹👌👌

Neha Sharma Nov 25, 2021
🙏🌺*:::::::::हरी बोल::::::::*🌺🙏 *'''जब वाणी मौन होती है*…...*तब मन बोलता है''''''* *::'::::जब मन मौन होता है**""तब बुद्धि बोलती है''''* *जब बुद्धि मौन होती है**,,,,,तब आत्मा बोलती है* *और जब आत्मा मौन होती है* *'',,,तब परमात्मा से,,,,'''* *साक्षात्कार होता है:::*🌺🙏 🙇🌺*जय श्री राधेकृष्णा*🌺🙇

Vijay Pandey Nov 25, 2021
जय श्री राधेकृष्ण ‌🚩💓🙏 शुभ संध्या मंगलमय हो बहन ! ठाकुर जी आपका सदा मंगल करें ‌💓🙌

V.k. Yadav Nov 25, 2021
जय श्री कृष्णा राधे राधे

Manoj manu Nov 25, 2021
🚩🌺जय श्री कृष्णा जी राधे राधे जी शुभ संध्या मधुर मंगल जी दीदी 🌿🙏

shree Shukla Nov 27, 2021
Jay shri Radha Krishna 🙏🏻 shubh ratri vandan🙏🏻🌺🙏🏻

+5 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 5 शेयर

+2 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 2 शेयर
Ram Niwas Soni Jan 18, 2022

+4 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 15 शेयर

+6 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 11 शेयर
PRABHAT KUMAR Jan 17, 2022

💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧 🔥🔥🔥🔥 *#हर_हर_महादेव_ऊँ_नमः_शिवाय* 🔥🔥🔥🔥 💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧 *🌜 मधुर सपनों के साथ शुभ रात्रि प्रिय आदरणीय साथियों 🌛* 🍂🍃🍂🍃🍂🍃🍂🍃🍂🍃🍂🍃🍂🍃🍂🍃🍂🍃🍂 *सभी देवी-देवताओं में भगवान शिव को कल्याणकारी माना गया है। भगवान शिव अपने भक्तों पर आने वाले कष्टों का हरण कर लेते हैं। 'ॐ नमः शिवाय' एक ऐसा मंत्र है जिसके नाम मात्र से सभी बाधाएं खत्म हो जाती हैं। इसकी महिमा का गुणगान हमारे पुराणों में किया गया है। प्रणव मंत्र 'ॐ' के साथ 'नमः शिवाय' (पंचाक्षर मंत्र) का मेल करने से षडक्षर मंत्र का निर्माण होता है इसलिए इसे षडक्षर मंत्र के नाम से भी जाना जाता है।* 💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧 *धन प्राप्ति के लिए शिवलिंग पर बेल पत्र अर्पित करते हुए ॐ नमः शिवाय मंत्र का जाप करें। इसके बाद भोलेनाथ की विधिवत आरती करें। ऐसा करने से मनचाहे धन की प्राप्ति होगी।* 💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧 *सुबह नित्यक्रम करने के बाद स्वच्छ श्वेत वस्त्र धारण करके शिवलिंग पर महादेवाय नमः मंत्र का जाप करते हुए कमल के फूल अर्पित करें। इस उपाय से भगवान शिव के साथ देवी लक्ष्मी भी प्रसन्न हाेती हैं और अपने भक्तों को धन-धान्य से परिपूर्ण करती हैं।* 💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧 *शिवलिंग पर दूध, गंगाजल, दुर्वा और बिल्वपत्र चढा़कर शिव मंत्र ॐ नमः शिवाय का जाप करने से आयु में वृद्धि होती है।* 💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧 *भोलेनाथ की अराधना करने वाले जातक अंत समय में शिवलोक जाते हैं। भगवान शिव की पूजा करते समय ऊं नमो भगवते रुद्राय मंत्र का जाप करने से भक्त को मोक्ष की प्राप्ति होती है।* 💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧 *सुबह स्नानादि कार्यों से निवृत्त होकर भोलेनाथ के स्वरूप पर अगस्त्य फूलों को चढ़ाते हुए ऊं नमः रुद्राय मंत्र का जाप करें। इससे हर क्षेत्र में सम्मान मिलेगा अौर जीवन ऐश्वर्य से परिपूर्ण हाेगा।* 💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧💧 *#नोट : उक्त जानकारी सोशल मीडिया से प्राप्त किया गया है।* 📰📰📰📰📰📰📰📰📰📰📰📰📰📰📰📰📰📰📰 *( इस आलेख में दी गई जानकारियाँ धार्मिक आस्था और लौकिक मान्यताओं पर आधारित है जिसे मात्र सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर प्रस्तुत किया गया है। )* 🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️

+27 प्रतिक्रिया 5 कॉमेंट्स • 12 शेयर
Jasbir Singh nain Jan 17, 2022

पौष पूर्णिमा व्रत 17 जनवरी, 2022 (सोमवार) शुभ प्रभात जी 🪔🪴🙏🙏 हर माह के शुक्ल पक्ष की चतुर्दशी तिथि के अगले दिन पूर्णिमा मनाई जाती है। इस प्रकार पौष माह की पूर्णिमा 17 जनवरी 2022 को मनाई जाएगी। पूर्णिमा के दिन चन्द्रदेव पूर्ण आकार में होते हैं। इस दिन पूजा, जप, तप, स्नान, सूर्य अर्घ्य और दान से न केवल चंद्रदेव ही नहीं बल्कि भगवान श्रीहरि की भी कृपा बरसती है। पूर्णिमा और अमावस्या को पूजा और दान करने से व्यक्ति के समस्त पाप कट जाते हैं। सनातन शास्त्रों में पूर्णिमा के दिन पूर्णिमा व्रत और सत्यनारायण पूजा का विधान है। इस दिन साधक पवित्र नदियों में स्नान कर तिल तर्पण करते हैं, इससे पितरों को मोक्ष की प्राप्ति होती है। इस दिन काशी, प्रयागराज और हरिद्वार में गंगा स्नान करना बेहद शुभ बताया जाता है। आइए अब जानते है पूर्णिमा तिथि का शुभ समय पौष पूर्णिमा तिथि - 17 जनवरी, 2022 पौष पूर्णिमा तिथि आरंभ - 17 जनवरी को रात 3:18 मिनट से। पौष पूर्णिमा तिथि समाप्त - 18 जनवरी सुबह 5:17 मिनट तक। उदया तिथि मान्य होती है, इसलिए पौष पूर्णिमा 17 जनवरी को ही मनाई जाएगी। वैदिक मान्यताओं अनुसार, पौष सूर्य देव का माह कहलाता है और इस मास सूर्य देव की आराधना करने से मनुष्य को मोक्ष की प्राप्ति होती है और पूर्णिमा चंद्रमा की तिथि है। अतः सूर्य और चंद्रमा का यह अद्भूत संगम पौष पूर्णिमा की तिथि को होता है। इस दिन सूर्य और चंद्रमा दोनों के पूजन से मनोकामनाएं पूर्ण होती है और जीवन में आने वाली बाधाएं दूर होती है। ऐसा कहा जाता है कि पौष मास के समय में किए जाने वाले धार्मिक कर्मकांड की पूर्णता पूर्णिमा पर स्नान करने से सार्थक होती है। आइए अब जानते है पौष पूर्णिमा के दिन की जाने वाली पूजा विधि के बारे में इस दिन प्रात: जल्दी उठकर घर की साफ़-सफाई करें। उसके बाद स्नान आदि करके व्रत का संकल्प लें। सर्वप्रथम भगवान सूर्य को ॐ नमो नारायणाय मंत्र का जाप करते हुए अर्घ्य और तिलांजलि दें। इसके लिए सूर्य के सामने खड़े होकर जल में तिल डालकर उसका तर्पण करें। फिर ठाकुर और नारायण जी की पूजा करें। भगवान को भोग में चरणामृत, पान, तिल, मोली, रोली, कुमकुम, फल, फूल, पंचगव्य, सुपारी, दूर्वा आदि अर्पित करें। अंत में आरती-प्रार्थना कर पूजा संपन्न करें। इसके बाद जरूरतमंदों और ब्राह्मणों को दान-दक्षिणा दें। दान में तिल, गुड़, कंबल और ऊनी वस्त्र विशेष रूप से देने चाहिए। तो दोस्तो ये थी पूर्णिमा के दिन की जाने वाली पूजा विधि, आइए अब जानते है इस दिन किए जाने वाले धार्मिक आयोजन के बारे में संपूर्ण जानकारी। पौष पूर्णिमा पर देश के विभिन्न तीर्थ स्थलों पर स्नान और धार्मिक आयोजन होते हैं। पौष पूर्णिमा से तीर्थराज प्रयाग में माघ मेले का आयोजन शुरू होता है। इस धार्मिक उत्सव में स्नान का विशेष महत्व बताया गया है। धार्मिक विद्वानों के अनुसार माघ माह के स्नान का संकल्प पौष पूर्णिमा पर लेना चाहिए। आइए जानते है कि इस दिन क्या करें और क्या नहीं पूर्णिमा के दिन चावल का दान करना शुभ होता है। चावल का संबंध चंद्रमा से होता है और पूर्णिमा के दिन चावल का दान करने से चंद्रमा की स्थिति कुंडली में मजबूत होती है। पूर्णिमा के दिन सफेद रंग की चीजों का दान करना चाहिए। इस दिन सत्यनारायण की कथा सुननी चाहिए और भगवान शिव की पूजा करने से शुभ फलों की प्राप्ति होती है। आज के दिन महालक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए पीपल के पेड़ की पूजा करनी चाहिए। कहते हैं कि पीपल में मां लक्ष्मी का वास होता है। इसी के साथ इस दिन लहसुन, प्याज, मांस-मदिरा आदि का सेवन नहीं ना करें। इस दिन परिवार में सुख-शांति बनाकर रखें और घर पर आने वाले गरीब या जरुरतमंद को दान दें।

+233 प्रतिक्रिया 72 कॉमेंट्स • 1001 शेयर
DEVINDER SINGH Jan 17, 2022

+2 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 1 शेयर
Ram Niwas Soni Jan 18, 2022

+5 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 2 शेयर

+134 प्रतिक्रिया 31 कॉमेंट्स • 218 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB