🌹ॐ जय लक्ष्मी माता..🙏.॥ 🙏महालक्ष्मी नमस्तुभ्यं, नमस्तुभ्यं सुरेश्वरि 🙏🌹। हरि प्रिये नमस्तुभ्यं, नमस्तुभ्यं दयानिधे ॥ पद्मालये नमस्तुभ्यं, नमस्तुभ्यं च सर्वदे । सर्वभूत हितार्थाय, वसु सृष्टिं सदा कुरुं ॥ ॐ जय लक्ष्मी माता, मैया जय लक्ष्मी माता । तुमको निसदिन सेवत, हर विष्णु विधाता ॥ उमा, रमा, ब्रम्हाणी, तुम ही जग माता । सूर्य चद्रंमा ध्यावत, नारद ऋषि गाता ॥ ॥ॐ जय लक्ष्मी माता...॥ दुर्गा रुप निरंजनि, सुख-संपत्ति दाता । जो कोई तुमको ध्याता, ऋद्धि-सिद्धि धन पाता ॥ ॥ॐ जय लक्ष्मी माता...॥ तुम ही पाताल निवासनी, तुम ही शुभदाता । कर्म-प्रभाव-प्रकाशनी, भव निधि की त्राता ॥ ॥ॐ जय लक्ष्मी माता...॥ जिस घर तुम रहती हो, ताँहि में हैं सद्‍गुण आता । सब सभंव हो जाता, मन नहीं घबराता ॥ ॥ॐ जय लक्ष्मी माता...॥ तुम बिन यज्ञ ना होता, वस्त्र न कोई पाता । खान पान का वैभव, सब तुमसे आता ॥ ॥ॐ जय लक्ष्मी माता...॥ शुभ गुण मंदिर सुंदर, क्षीरोदधि जाता । रत्न चतुर्दश तुम बिन, कोई नहीं पाता ॥ ॥ॐ जय लक्ष्मी माता...॥ महालक्ष्मी जी की आरती, जो कोई नर गाता । उँर आंनद समाता, पाप उतर जाता ॥ ॥ॐ जय लक्ष्मी माता...॥ ॐ जय लक्ष्मी माता, मैया जय लक्ष्मी माता । तुमको निसदिन सेवत, हर विष्णु विधाता

+263 प्रतिक्रिया 88 कॉमेंट्स • 105 शेयर

कामेंट्स

🇮🇳🇮🇳GEETA DEVI 🇮🇳🇮🇳 Sep 18, 2021
JAI SHREE RAM... 🙏🌹🌹 SUPRABHATAM... 🍀🍀🎉 🤗🤗🥀🍫🍫🥀🤗🤗 APKA HAR PAL DHERO KHUSHIYON SE PARIPURN HO MERI PYARI BEHANA JI... 🍀🥀🌹🙏🙏🌹🥀🍀

Sushil Kumar Sharma 🙏🙏🌹🌹 Sep 18, 2021
Good Morning My Sister ji 🙏🙏 Jay Shree Ram 🙏🙏🌹🌹 Jay Veer Hanuman 🙏🙏🌹🌹 Jay Shanidev 🙏🙏🌹🌹 Shanidev Maharaj Ki Kripa Dristi Aap Our Aapke Priwar Per Hamesha Sada Bhni Rahe ji 🙏 Aapka Har Din Shub Mangalmay Ho ji 🙏🙏🌹🌹🌹 Aap Hamesha Khush Rahe ji 🙏🙏🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹💐💐💐💐🌷🌷🌷🌷🌹.

Nitin Sharma Sep 18, 2021
     ॐ शं शनैश्चराय नमः              #जय_श्रीराम #हर_हर_महादेव #जय_हनुमान #जय_शनिदेव #शुभ_प्रभात

Seemma Valluvar Sep 18, 2021
ॐ शं शनैश्चराय नमः 🙏🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🚩, भगवान शनिदेव जी की कृपा सदा आप पर बना रहे दीदीजी, जय शनिदेव महाराज 🙏🌺🚩 गणपति जी 🙏🌺🌺🌺🌺🚩

Ashwinrchauhan Sep 18, 2021
ॐ शः शनेश्चराय नमः शुभ शनिवार सूर्य पुत्र शनिदेव और राम भक्त हनुमान जी की कृपा आप पर आप के पुरे परिवार पर सदेव बनी रहे मेरी आदरणीय बहना जी आप का हर पल मंगल एवं शुभ रहे न्याय के देवता शनिदेव महाराज आप की हर मनोकामना पूरी करे आप का आने वाला दिन शुभ रहे गुड नाईट बहना जी

SOM DUTT SHARMA Sep 18, 2021
🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹 Sri Radhey 🙏 Radhey g very very sweet good night g sweet dreams and take care g thanks 🙏 g 🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹

rakesh dubey Sep 18, 2021
Jai shri ram🚩🚩 Jai shri radhe krishna ji🌷 GOOD night ji💐💐💐

Sharmila singh Sep 18, 2021
जय मां लक्ष्मी नारायण नमो नमः प्रेम से बोलो सांचे दरबार की जय माता रानी खुशियों से आपके दामन को भर दे प्यारी बहना शुभ रात्रि

Munesh Tyagi Sep 19, 2021
Jai shree ganeshay namah shubh prabhat vandan bahana shree ganesh visarjan v anant Chaturdashi ki hardik shubhkamnaye Ji

SOM DUTT SHARMA Sep 19, 2021
🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹 Sri Radhey 🙏 Radhey g very very sweet good morning 🌄 g have a great day and take care g thanks 🙏 g 🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹

Manoj manu Sep 19, 2021
🚩🔔जय श्री गणेशाय नमः आप सभी को पवित्र पावन पर्व अनंत चतुर्दशी की हार्दिक शुभकामनाएँ जी शुभ दिन मधुर मंगल जी दीदी 🌿🙏

🔴 Suresh Kumar 🔴 Sep 19, 2021
गणपति बप्पा मोरया 🙏 अगले बरस तू जल्दी अा 🙏 अनंत चतुर्दशी की हार्दिक शुभकामनाएं 🌹🙏🌹। गणपति बप्पा की कृपा आप पर व आपके परिवार पर सदा बनी रहे मेरी प्यारी बहन 🌲 🥀🥀🥀🥀🥀🥀🥀🥀🥀

SOM DUTT SHARMA Sep 19, 2021
🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹 Sri Radhey 🙏 Radhey g very very sweet good night g sweet dreams and take care g thanks 🙏 g 🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹

Brajesh Sharma Sep 20, 2021
🙏🌹अनन्त कोटि ब्रह्मांड नायक स्वयम्भू दक्षिन्मुखीस्थित अवंतिकानाथ मृत्युलोकाधिपति राजाधिराज योगिराज भुत भावन काल कपाल बाबा महाँकाल महाराज की जय हो🌹 🌞ॐ नमः शिवाय.. हर हर महादेव🙏 💕खुश रहें मस्त रहें मुस्कुराते रहें स्वस्थ रहें🌞💥

🔴 Suresh Kumar 🔴 Sep 20, 2021
Om namah Shivay 🙏 shubh prabhat vandan meri behan 🌼🌼🌼🌼 Bhagwan bholenath ki kripa aap par v aapke parivar par sada bani rahe 🌹🌹🌹🌹🙏🌹🌹🌹🌹

✴️ILA SINHA✴️ Sep 20, 2021
🌿🌺Om Namah Shivay 🌺🌿 🌿🌺 Har har Mahadev 🌺🌿 🌿🌺 Good evening🌺🌿

Nathu lal prajapti Sep 21, 2021
🌹🌹🌹🌹🌹🙏 माता रानी की कृपा आप सभी पर बनी रहे 🙏

संजीव शर्मा 9779584243 Sep 22, 2021
जिंदगी सभी के लिए रंगीन किताब है फर्क है तो बस इतना कि कोई हर पन्ने को दिल से पढ़ रहा है, और कोई बस पन्ने पलट रहा है...!!!🙏🏻 #जय_जय_सियाराम🙏🏻🙏🏻🚩

Shudha Mishra Oct 13, 2021

+66 प्रतिक्रिया 21 कॉमेंट्स • 47 शेयर

+15 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 12 शेयर
हीरा Oct 13, 2021

+7 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 37 शेयर
Vijay Yadav Oct 14, 2021

+14 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 21 शेयर
Gopal Jalan Oct 13, 2021

+29 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 44 शेयर
Babbu Bhai Oct 14, 2021

+9 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 7 शेयर
sajjan shukla Oct 14, 2021

+5 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 18 शेयर
Krishan Kumar Oct 13, 2021

🚩 जय माँ महागौरी 🚩 “माँ दुर्गा का आठवां स्वरूप" नवरात्रि के आठवें दिन मां महागौरी की पूजा की जाती है। आदिशक्ति श्री दुर्गा का अष्टम रूप श्री महागौरी हैं। मां महागौरी का रंग अत्यंत गौरा है इसलिए इन्हें महागौरी के नाम से जाना जाता है। मान्यता के अनुसार अपनी कठिन तपस्या से मां ने गौर वर्ण प्राप्त किया था। तभी से इन्हें उज्जवला स्वरूपा महागौरी, धन ऐश्वर्य प्रदायिनी, चैतन्यमयी त्रैलोक्य पूज्य मंगला, शारीरिक मानसिक और सांसारिक ताप का हरण करने वाली माता महागौरी का नाम दिया गया। आज के दिन महागौरी की पूजा की जाती है, इसीलिए हम लेकर आए है आपके लिए श्री मंदिर पर माँ गौरी की पूजा विधि, मंत्र, महत्व, कथा और आरती आइए पढ़ते है। *महागौरी का अर्थ* अर्थ - मां दुर्गा का आठवां स्वरूप है महागौरी का। देवी महागौरी का अत्यंत गौर वर्ण हैं। इनके वस्त्र और आभूषण आदि भी सफेद ही हैं। इनकी चार भुजाएं हैं। महागौरी का वाहन बैल है। देवी के दाहिने ओर के ऊपर वाले हाथ में अभय मुद्रा और नीचे वाले हाथ में त्रिशूल है। बाएं ओर के ऊपर वाले हाथ में डमरू और नीचे वाले हाथ में वर मुद्रा है। इनका स्वभाव अति शांत है। *पूजन विधि* सबसे पहले चौकी (बाजोट) पर माता महागौरी की प्रतिमा या तस्वीर स्थापित करें। इसके बाद गंगा जल या गोमूत्र से शुद्धिकरण करें। चौकी पर चांदी, तांबे या मिट्टी के घड़े में जल भरकर उस पर नारियल रखकर कलश स्थापना करें। उसी चौकी पर श्रीगणेश, वरुण, नवग्रह, षोडश मातृका (16 देवी), सप्त घृत मातृका(सात सिंदूर की बिंदी लगाएं) की स्थापना भी करें। इसके बाद व्रत, पूजन का संकल्प लें और वैदिक एवं सप्तशती मंत्रों द्वारा माता महागौरी सहित समस्त स्थापित देवताओं की षोडशोपचार पूजा करें। इसमें आवाहन, आसन, पाद्य, अध्र्य, आचमन, स्नान, वस्त्र, सौभाग्य सूत्र, चंदन, रोली, हल्दी, सिंदूर, दुर्वा, बिल्वपत्र, आभूषण, पुष्प-हार, सुगंधित द्रव्य, धूप-दीप, - नैवेद्य, फल, पान, दक्षिणा, आरती, प्रदक्षिणा, मंत्र पुष्पांजलि आदि करें। तत्पश्चात प्रसाद वितरण कर पूजन संपन्न करें। अगर आपके घर अष्‍टमी पूजी जाती है तो आप पूजा के बाद कन्याओं को भोजन भी करा सकते हैं। ये शुभ फल देने वाला माना गया है। *मंत्र* श्वेत वृषे समारूढ़ा श्वेताम्बरधरा शुचि:। महागौरी शुभं दद्यान्महादेवप्रमोददा॥ *महागौरी पूजा का महत्व* माँ महागौरी का ध्यान, स्मरण, पूजन-आराधना भक्तों के लिए सर्वविध कल्याणकारी है। हमें सदैव इनका ध्यान करना चाहिए। इनकी कृपा से अलौकिक सिद्धियों की प्राप्ति होती है। मन को अनन्य भाव से एकनिष्ठ कर मनुष्य को सदैव इनके ही पादारविन्दों का ध्यान करना चाहिए। महागौरी भक्तों का कष्ट अवश्य ही दूर करती हैं। इनकी उपासना से आर्तजनों के असंभव कार्य भी संभव हो जाते हैं। अतः इनके चरणों की शरण पाने के लिए हमें सर्वविध प्रयत्न करना चाहिए। *उपासना* पुराणों में माँ महागौरी की महिमा का प्रचुर आख्यान किया गया है। ये मनुष्य की वृत्तियों को सत्‌ की ओर प्रेरित करके असत्‌ का विनाश करती हैं। हमें प्रपत्तिभाव से सदैव इनका शरणागत बनना चाहिए। या देवी सर्वभू‍तेषु माँ गौरी रूपेण संस्थिता। नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:।। भावार्थ - हे माँ! सर्वत्र विराजमान और माँ गौरी के रूप में प्रसिद्ध अम्बे, आपको मेरा बार-बार प्रणाम है। हे माँ, मुझे सुख-समृद्धि प्रदान करो। *महागौरी की कथा* भगवान शिव को पति के रूप में प्राप्त करने के लिए इन्होंने कठोर तपस्या की थी, जिससे इनका शरीर काला पड़ गया। इनकी कठोर तपस्या से महादेव प्रसन्न हो गए और इनकी प्रार्थना स्वीकार कर ली। इनके शरीर का रंग तपस्या से काला हो जाने के कारण महादेव ने इन्हें गंगाजल से धोया तो ये फिर से गौर रंग वाली हो गईं। इसी कारण इनका नाम गौरी पड़ गया। इसी कारण कहा जाता है कि अष्टमी के दिन व्रत रखने से भक्तों को उनका मनचाहा जीवनसाथी मिलता है। महागौरी की एक अन्य कथा भी प्रचलित है। इसके अनुसार जब मां उमा जंगल में तपस्या कर रही थीं, तभी एक शेर वन में भूखा घूम रहा था। खाने की तलाश में वहां पहुंचा जहां मां तपस्या में लीन थी। देवी को देखकर शेर की भूख बढ़ गई और शेर उनके तपस्या पूरी करने का इंतजार करने लगा। इस इंतजार में वह काफी कमजोर हो गया। देवी जब तप से उठी तो शेर की दशा देखकर उन्हें उस पर बहुत दया आई। मां ने उसे अपनी सवारी ली और एक प्रकार से उसने भी मां के साथ तपस्या की थी। इसलिए देवी महागौरी का वाहन बैल और सिंह दोनों ही हैं। 🙏👏🙏🚩🙏👏🙏

+11 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 2 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB