Jagruti patel
Jagruti patel Dec 3, 2021

भक्ति और मुक्ति :- "साथ" चलने के लिए" सतगुरु "का साथ चाहिए "आँसू "रोकने के लिए "सतगुरु" का प्यार चाहिए "जिन्दा "रेहने के लिए "सतगुरु" का आशिर्वाद चाहिए "जिन्दगी "ख़ुशी से "जीने "के लिए " सेवा" सत्संग" "सिमरण "और "ध्यान "चाहिए" बाहर है प्रकृति. अंदर है सृष्टि बाहर है मन. अंदर है स्वयं बाहर है मृत्यु. अंदर है जीवन बाहर है रुदन. अंदर है आनंद बाहर है नरक. अंदर है स्वर्ग बाहर है मन्नत. अंदर है जन्नत बाहर है दौड़. अंदर है विश्राम बाहर है व्यवधान. अंदर है समाधान बाहर है नश्वर. अंदर है शास्वत बाहर है व्याधि. अंदर है समाधि बाहर है कामी. अंदर है अंतर्यामी बाहर है भ्रांति. अंदर है शांति बाहर है आत्मा. अंदर है परमात्मा जय सच्चिदानंद जी आत्मा को परमात्मा इसलिए कहा जाता है क्यों कि मनुष्य का शरीर भक्ति करने के लिए दिया गया है l एक यही योनि एसी है जिसमें भक्ति करने का अवसर मिलता है l मानव योनि मैं आने का अर्थ है भक्ति करके मुक्ति प्राप्त करना l

+23 प्रतिक्रिया 4 कॉमेंट्स • 7 शेयर

कामेंट्स

GOVIND CHOUHAN Dec 3, 2021
Jai Jai Jai Shree Khatu Shyam Baba Ji 🌷🌷🌷🌷🌷🙏🙏 Shubh Prabhat Vandan Jiii 🙏🙏

Babulal Dec 3, 2021
jay shree krishna ji good morning ji

Archana Singh Dec 3, 2021
🙏🌹जय माता दी 🌹🙏आप सभी भाई बहनों को सुबह की राम राम जी🙏🌹 माता रानी की दिव्य कृपा दृष्टि आप सभी को सुख समृद्धि प्रदान करें🙏🌹🌹🙏

+2 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 9 शेयर
Mavjibhai patel Jan 21, 2022

+4 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
PAWAN KANSAL Jan 21, 2022

+3 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 1 शेयर
PAWAN KANSAL Jan 21, 2022

+6 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 3 शेयर

+7 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 8 शेयर
K. Rajan Jan 21, 2022

+5 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 6 शेयर

+4 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Mamta Chauhan Jan 21, 2022

+59 प्रतिक्रिया 42 कॉमेंट्स • 13 शेयर
Babbu Bhai Jan 21, 2022

+3 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB