🌼शुभ सतोषी मॉ 🌻शुभ सवेरा वंदन 🌺शुभ शुकवार

🌼शुभ सतोषी मॉ 
🌻शुभ सवेरा वंदन 
🌺शुभ शुकवार

+14 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 55 शेयर

कामेंट्स

+14 प्रतिक्रिया 4 कॉमेंट्स • 86 शेयर
Rama Devi Sahu Jan 19, 2022

+34 प्रतिक्रिया 13 कॉमेंट्स • 123 शेयर

' " *[१२१ - ज्वरनाशन सूक्त (११६)]* " [ *ऋषि* - अथर्वाङ्गिरा। *देवता* - चन्द्रमा। *छन्द* - परोष्णिक, २ एकावसाना द्विपदा आर्ची अनुष्टुप्।] *इस सूक्त में मलेरिया जैसे ज्वर के निवारण की प्रार्थना की गई है। इस ज्वर के अनेक रूप कहे गये हैं, जो वैद्यक शास्त्र के अनुरूप है-* "२०२७. नमो रूराय च्यवनाय नोदनाय धृष्णवे। नमः शीताय पूर्वकामकृत्वने॥१॥" "तपाने वाले, हिलाने वाले, भड़काने वाले, डराने वाले,शीत लगकर आने वाले एवं शरीर को तोड़ने (कृश करने) वाले ज्वर को नमस्कार है॥१॥ "२०२८. यो अन्येद्युरुभयद्युरभ्येतीमं मण्डूकमभ्ये त्वव्रतः॥२॥" "जो ज्वर एक दिन छोड़कर आते हैं, जो दो दिन छोड़कर आते हैं तथा जो बिना किसी निश्चित समय के आते हैं, वे इस मेढक (संकीर्ण या आलसी व्यक्ति) के पास जाएँ॥२॥" (क्रमशः) "अथर्ववेद संहिता [सरल हिन्दी भावार्थ सहित]" - वेदमूर्ति तपोनिष्ठ पं० श्रीराम शर्मा आचार्य" ----------:::×:::---------- " जय माता दी " " कुमार रौनक कश्यप " **********************************************

+16 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 27 शेयर

+12 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 14 शेयर
Rama Devi Sahu Jan 20, 2022

+43 प्रतिक्रिया 10 कॉमेंट्स • 24 शेयर
Somya Jan 20, 2022

+41 प्रतिक्रिया 7 कॉमेंट्स • 64 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB