X7skr
X7skr Aug 6, 2022

🕉️ namah shivay 🙏 @ *🌞~ आज का हिन्दू पंचांग ~🌞* *⛅दिनांक - 07 अगस्त 2022* *⛅दिन - रविवार* *⛅विक्रम संवत् - 2079* *⛅शक संवत् - 1944* *⛅अयन - दक्षिणायन* *⛅ऋतु - वर्षा* *⛅मास - श्रावण* *⛅पक्ष - शुक्ल* *⛅तिथि - दशमी रात्रि 11:50 तक तत्पश्चात एकादशी* *⛅नक्षत्र - अनुराधा शाम 04:03 तक तत्पश्चात ज्येष्ठा* *⛅योग - ब्रह्म सुबह 10:03 तक तत्पश्चात इन्द्र* *⛅राहु काल - शाम 05:40 से 07:18 तक* *⛅सूर्योदय - 06:13* *⛅सूर्यास्त - 07:18* *⛅दिशा शूल - पश्चिम दिशा में* *⛅ब्राह्ममुहूर्त - प्रातः 04:46 से 05:29 तक* *⛅निशिता मुहूर्त - रात्रि 12:24 से 01:07 तक* *⛅व्रत पर्व विवरण -* *⛅ विशेष - दशमी को कलम्बिका शाक खाना सर्वथा त्याज्य है । (ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)* *🔹रक्षाबंधन - 11 अगस्त 2022🔹* *👉 11 अगस्त सुबह 10:38 तक चतुर्दशी है, इसे 'रिक्ता' तिथि कहते है, इस तिथि में राखी नहीं बांधनी चाहिए । - ज्योतिषग्रंथ 'मानसागरी'* *👉 11 अगस्त सुबह 10:38 से रात्रि 08:51 तक भद्रा काल है, ज्योतिष शास्त्र के अनुसार इस समय राखी बांधने से भाई-बहन दोनों का नुकसान होता है I - (रावण व सुपर्णखा पौराणिक कथा)* *👉 12 अगस्त को सुबह 07:05 बजे पूर्णिमा समाप्त हो जाती है । राखी पूर्णिमा तिथि में ही बांधने का नियम है । इसलिए 07:05 बजे के बाद राखी नहीं बांधी जाएगी ।* *🔹 रक्षाबंधन का शुभ मुहूर्त : 11 अगस्त रात्रि 08:52 से 12 अगस्त सुबह 07:05 बजे तक ।* *👉 इस समय के बीच अपने अनुकूल समयानुसार आप राखी बांध सकते हैं ।* *🔹घर मे सुख शांति के लिए🔹* *🔹झाड़ू और पोंछा ऐसी जगह पर नहीं रखने चाहिए कि बार-बार नजरों में आयें । भोजन के समय भी यथासंभव न दिखें, ऐसी सावधानी रखें ।* *🔹घर में टूटी-फूटी अथवा अग्नि से जली हुई प्रतिमा की पूजा नहीं करनी चाहिए । ऐसी मूर्ति की पूजा करने से गृहस्वामी के मन में उद्वेग या घर-परिवार में अनिष्ट होता है । (वराह पुराण : १८६.४३)* *🔹५० ग्राम फिटकरी का टुकड़ा घर के प्रत्येक कमरे में तथा कार्यालय के किसी कोने में अवश्य रखना चाहिए । इससे वास्तुदोषों से रक्षा होती है ।* *🔹 रविवार के दिन क्या करें, क्या ना करें ?🔹* *🔹 रविवार के दिन स्त्री-सहवास तथा तिल का तेल खाना और लगाना निषिद्ध है । (ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-38)* *🔹 रविवार के दिन मसूर की दाल, अदरक और लाल रंग का साग नहीं खाना चाहिए । (ब्रह्मवैवर्त पुराण, श्रीकृष्ण खंडः 75.90)* *🔹 रविवार के दिन काँसे के पात्र में भोजन नहीं करना चाहिए । (ब्रह्मवैवर्त पुराण, श्रीकृष्ण खंडः 75)* *🔹 रविवार सूर्यदेव का दिन है, इस दिन क्षौर (बाल काटना व दाढ़ी बनवाना) कराने से धन, बुद्धि और धर्म की क्षति होती है ।* *🔹 रविवार को आँवले का सेवन नहीं करना चाहिए ।* *🔹 स्कंद पुराण के अनुसार रविवार के दिन बिल्ववृक्ष का पूजन करना चाहिए । इससे ब्रह्महत्या आदि महापाप भी नष्ट हो जाते हैं ।* *🔹 रविवार के दिन पीपल के पेड़ को स्पर्श करना निषेध है ।* *🔹 रविवार के दिन तुलसी पत्ता तोड़ना वर्जित है ।* *🔹 व्यापार में वृद्धि हेतु 🔹* *👉🏻 रविवार को गंगाजल लेकर उसमें निहारते हुए २१ बार गुरुमंत्र जपें, गुरुमंत्र नहीं लिया हो तो गायत्री मंत्र जपें । फिर इस जल को व्यापार-स्थल पर जमीन एवं सभी दीवारों पर छिड़क दें । ऐसा लगातार ७ रविवार करें, व्यापार में वृद्धि होगी ।* *📖 ऋषि प्रसाद – जुलाई २०१८ से*

+6 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 12 शेयर

कामेंट्स

Neeraj Gangwar Aug 6, 2022
Om namah shivay 🌹🙏🌹 shubh prabhatji 🌹🙏🌹🌹

heera Jul 30, 2022

+10 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 43 शेयर
heera Jul 30, 2022

+7 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 35 शेयर
Srivastava.ji Jul 30, 2022

+13 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 52 शेयर
heera Jul 30, 2022

+5 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 18 शेयर
Sudha Mishra Jul 30, 2022

+126 प्रतिक्रिया 58 कॉमेंट्स • 190 शेयर
Priya Singh Jul 30, 2022

+25 प्रतिक्रिया 8 कॉमेंट्स • 8 शेयर
Asha Devi Shrivastav Jul 30, 2022

+41 प्रतिक्रिया 8 कॉमेंट्स • 100 शेयर
Surja negi Jul 30, 2022

+6 प्रतिक्रिया 5 कॉमेंट्स • 10 शेयर

+23 प्रतिक्रिया 5 कॉमेंट्स • 34 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB