Jay Shri Ram Jii

Jay Shri Ram Jii

+11 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 0 शेयर

कामेंट्स

MADHUBEN PATEL Oct 14, 2021
जय सियाराम जी आज के लिये शुभरात्रि और कल के लिए विजयादशमी की हार्दिक शुभकामनाएं

Kailash Prasad Nov 27, 2021

+39 प्रतिक्रिया 5 कॉमेंट्स • 52 शेयर
Kailash Prasad Nov 27, 2021

+53 प्रतिक्रिया 20 कॉमेंट्स • 9 शेयर
Ramesh agrawal Nov 25, 2021

+11 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 3 शेयर
Ram Niwas Soni Nov 27, 2021

+15 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 41 शेयर

*वास्तु शास्त्र के अनुसार उत्तर दिशा में सिर रखकर सोने से क्यों मना किया जाता है ??* 🕉️ मनुष्य का सिर सकारात्मक उर्जा का स्त्रोत है ,इसे चुम्बकीय उत्तर माना गया है । 👉 जब हम उत्तर में सिर करके सोते हैं तो हमारा सिर और उत्तर दिशा की सकारात्मक उर्जा एक दुसरे का प्रतिरोध [प्रतिकर्षित] करते हैं । 🕉️ इस प्रतिरोध के फलस्वरूप रात को सोते समय नीद में बाधा उत्पन्न होता है ,नीद गहरी नही होती ,दिन भर हाथ पैर मे दर्द की शिकायत लोग करते हैं । 👉 सनातन धर्म के अनुसार मृतक को उत्तर दिशा में सिर रखकर दरवाजे के पास सुलाने का विधान है । 🕉️ इसलिए उत्तर दिशा में सोने से हमारी प्रतिरोधक क्षमता कम हो जाती है और बीमार होने की सम्भावना बद जाती है । 👉 अगर हमारा घर वास्तुदोष से भरा पड़ा है तो नींद नही आने की शिकायत आम बात है !! 🕉️ वास्तुशास्त्र के अनुसार दक्षिण दिशा में सिर करके सोने से गहरी नीद आती है !! 👉 दक्षिण दिशा में सिर करके सोने से धन की प्राप्ति होती है ,इसलिए बड़ों को दक्षिण दिशा में सिर रखकर सोना चाहिए!! 🕉️ पूर्व दिशा में सोने से ज्ञान की प्राप्ति होती है इसलिए पढ़ने लिखने वाले बच्चों को पूर्व दिशा में सिर रखकर सोना चाहिए !! 👉 पश्चिम दिशा में सिर रखकर सोने से चिंता ज्यादा होती है क्योंकि पश्चिम का तत्व वायु है जो की अस्थिर होता है !! 🕉️ अतिथि को घर वापस जाने की चिंता ज्यादा लगी रहती है इसलिए अतिथि को पश्चिम दिशा में सिर रखकर सुलाना चाहिए !! *पुराणों से :--* 👉 माँ पार्वती जब स्नान कर रही थी उस समय नवनिर्मित गणेश जी द्वार पर लोगों को अंदर आने से मना कर रहे थे ,भगवान शिव को अंदर आने से मना करने पर भगवान शिव ने गणेश जी सिर काट दिया । माँ पार्वती के आग्रह पर --भगवान शिव ने अपने अनुचर को आदेश दिया कि जो भी इस पृथ्वी पर उत्तर दिशा में सिर करके सो रहा हो उसका सिर काटकर ले आवो ,उस युग में लोग शास्त्र के अनुकूल शयन करते थे इसलिए कोई भी व्यक्ति उत्तर दिशा की ओर सिर करके सोते नही मिला । अंत में अनुचरों को हाथी का एक बच्चा उत्तर दिशा में सिर करके सोते मिला ,हाथी के उस बच्चे का सिर काटकर भगवान गणेश जी को जीवित किया गया । हाथी के बच्चे का सिर इसलिए कटा क्योंकि वो उत्तर दिशा में सिर करके सो रहा था , कलयुग में क्यों हम शिव जी के अनुचरों को अपने घर आमंत्रित करें 🕉️ इसलिए दक्षिण में सिर करके सोयें इससे भगवान शिव प्रशन्न ही होंगे ,और एक बार भगवान शिव जी प्रशन्न हो गये तब तो वो औघड़ दानी हैं !! *नींद नहीं आने के कुछ मनोवैज्ञानिक कारण भी है :---* 👉 अगर आपने ऐसा कोई काम किया है जो आपको नही करना चाहिए था तो इसकी वजह से भी लोगों की नींद उड़ जाती है !! 🕉️ जो जिम्मेजारी आपको दी गयी है अगर उसे आप समय पर नही करते हैं तब भी नींद उड़ जाती है !! 👉 अक्सर परीक्षा के समय बच्चों की नींद उड़ जाती है ,नेताओं की नींद चुनाव के समय उड़ जाती है !! 🙏🙏🙏

+210 प्रतिक्रिया 84 कॉमेंट्स • 245 शेयर
Mamta Chauhan Nov 27, 2021

+124 प्रतिक्रिया 64 कॉमेंट्स • 133 शेयर
SaarthakR Prajapat Nov 27, 2021

+6 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 35 शेयर
Sudha Mishra Nov 27, 2021

+66 प्रतिक्रिया 31 कॉमेंट्स • 132 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB